सिनेमा

Dabangg 3 Review: फूल एक्शन और नॉटी अंदाज़ के साथ आए हैं चुलबुल पांडे, जानें- कैसी है फिल्म?

सलमान खान की फिल्म दबंग-3 रिलीज हो गई है और बताया जा रहा है कि इस बार सलमान खान एक्सट्रा एक्शन और जबरजस्त डायलॉग्स के साथ सिनेमाघरों में आए हैं.

बॉलीवुड डेस्क (Thelittichokha) : सलमान खान की जब फिल्म आने वाली होती है उनके चाहने वालों के बीच वैसे ही उत्सव का माहौल होता है और वैसे ही उसके सफलता की गारंटी उसकी घोषणा के साथ ही लेकर आई थी. दबंग से चुलबुल पांडे करोड़ो दर्शकों के दिलों में बैठ गए थे और दबंग 2 की सफलता ने इस बात को और पुख्ता किया था. अब जब दबंग-3 आई है तो बॉक्स ऑफिस पर शोर-शराबा शुरू हो गया है.

दबंग 3 की अगर बात करें तो इसके निर्देशक प्रभु देवा ने दबंग के ब्रांड पर सिर्फ एक प्रभाव डाला है वह एक्शन में साउथ का प्रभाव बाकी फिल्म दबंग जैसी है. वही एक्शन, इमोशन और ड्रामा सब कुछ ओवर द टॉप है. कहानी में सिर्फ यह बदलाव है चुलबुल पांडे से मिलने के पहले एक लड़की खुशी (सई मांजरेकर) से प्यार करते थे और उनकी लव स्टोरी में खलनायक बने बाली( सुदीप) अब एक बार फिर उनके सामने हैं. इस बार बली और भी ज्यादा ताकतवर बन कर चुलबुल पांडे के सामने है.

फिल्म की कहानी सलमान खान ने स्वयं लिखी है और बतौर कहानीकार यह उनका बॉलीवुड डेब्यू है. यह कहानी चुलबुल पांडे (सलमान खान) के दबंग बनने से पहले की है. उनकी जिंदगी में रज्जो (सोनाक्षी सिन्हा) से पहले खुशी (सई मांजरेकर) आती है. चुलबुल को पहली नजर में ही खुशी से प्यार हो जाता है. इसी बीच कहानी में विलेन बाली सिंह (किच्चा सुदीप) की एंट्री होती है और लव स्टोरी रिवेंज ड्रामा में बदल जाती है.

सलमान खान अपने चिरपरिचित अंदाज में दिखे हैं. वहीं किच्चा सुदीप ने जबर्दस्त काम किया है. खुशी के रोल में सई मांजरेकर को फिल्म में ज्यादा स्पेस नहीं मिला, लेकिन जितना भी हिस्सा उनके जिम्मे आया, उसमें वे खूबसूरत और कॉन्फिडेंट नजर आती हैं. इमोशनल सीन्स उन्होंने बखूबी किए हैं. सोनाक्षी सिन्हा, अरबाज खान और बाकी अन्य कलाकार कुछ खास असर नहीं छोड़ते.

फिल्म जरूरत से ज्यादा लंबी हुई है. किरदारों की एंट्री और इंट्रोडक्शन में काफी वक्त लिया गया है. हालांकि, इसके पीछे सलमान के चाहने वालों का ‘लार्जर दैन लाइफ’ सिनेमा का तर्क हो सकता है. सलमान ने कहानी गढ़ने में अपने चाहनेवालों का पूरा ध्यान रखा है. फिल्म रियल सिनेमा के शौकीनों को पसंद नहीं आएगी, क्योंकि इसमें तर्कों का अभाव है. हालांकि, सिंगल स्क्रीन सिनेमा और मसाला फिल्मों के दर्शक जरूर इस पर सीटी और तालियां बजाते नजर आ सकते हैं.

रेटिंग 3/5
स्टारकास्ट सलमान खान, किच्चा सुदीप, सोनाक्षी सिन्हा, सई मांजरेकर, अरबाज खान और प्रमोद खन्ना
निर्देशक प्रभु देवा
निर्माता सलमान खान, अरबाज खान, निखिल द्विवेदी
जोनर एक्शन-कॉमेडी ड्रामा
म्यूजिक साजिद-वाजिद
अवधि 164

टैग

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

संबंधित समाचार

Back to top button
Close
Close