ब्रेकिंग न्यूज़स्टेट न्यूज़

रांची से ATM के रुपये लेकर भागे दो सगे भाई पटना में गिरफ्तार, 42.50 लाख कैश बरामद

झारखंड के रांची के एटीएम में लोड होने जा रहे चार करोड़ सात लाख 53 हजार रुपये के गबन के मामले में पुलिस ने पाटलिपुत्र इलाके से दो सगे भाइयों को गिरफ्तार किया है.

पटना: झारखंड से एटीएम से मोटी रकम गायब करनेवाले अपराधियों को पकड़ने में पटना पुलिस को बड़ी सफलता मिली है. पटना के फुलवारीशरीफ से दो सगे भाइयों को पुलिस ने दबोचा है. दोनों की गिरफ्तारी झारखंड के रांची के एटीएम में लोड होने जा रहे चार करोड़ सात लाख 53 हजार रुपये के गबन के मामले में पुलिस ने पाटलिपुत्र इलाके से की है. उनकी पहचान सुपौल जिले के धरबिटिया थानांतर्गत बमेल्वा गांव निवासी राजेश कुमार महतो और सुरेश कुमार महतो के रूप में हुई है. पुलिस ने उनके पटना के फुलवारीशरीफ स्थित ठिकाने से चोरी किए गए 42 लाख 50 हजार रुपये बरामद किए हैं. दोपहर रांची पुलिस आरोपितों को साथ ले गई. थानाध्यक्ष केपी सिंह ने बताया कि रांची पुलिस की सूचना पर कार्रवाई की गई.

15 दिसंबर को पैसे लेकर गायब हो गए थे अपराधी 

जानकारी के अनुसार, सुपौल निवासी गणेश ठाकुर और समस्तीपुर के मुसरीधरारी निवासी शिवम कुमार एसआइएस सिक्योरिटी कंपनी में रांची (झारखंड) में काम करते थे. उन्हें 15 दिसंबर 2019 को 20 एटीएम में नकदी डालने के लिए चार करोड़ सात लाख 53 हजार रुपये दिए गए थे. वे कैश वैन के कस्टोडियन थे. जब दोनों अगली सुबह तक नहीं लौटे तो कंपनी के सहायक प्रबंधक व पलामू (झारखंड) जिले के लालगढ़ निवासी कंचन ओझा ने रांची के सदर थाने में गबन की प्राथमिकी दर्ज कराई.

सुपौल के रहनेवाले हैं अपराधी

इसी बीच पुलिस को उनके दोस्त सुपौल निवासी सुभाष के बारे में पता चला. रांची के सदर थानाध्यक्ष राजकुमार यादव के नेतृत्व में पुलिस ने सुभाष को हिरासत में लेकर पूछताछ की. उनकी निशानदेही पर पाटलिपुत्र थाना क्षेत्र में सदाकत आश्रम के पास से राजेश और सुरेश को पकड़ा गया. दोनों भाई फुलवारीशरीफ में मित्रमंडल कॉलोनी स्थित परमानंद सिंह के मकान में किराए पर रह रहे थे. पुलिस ने घर की तलाश ली तो वहां से 42 लाख 50 हजार रुपये मिले.

Leave a Reply

संबंधित समाचार

Back to top button